Logo

ब्रेकिंग न्यूज़

हाईकोर्ट से  सांसद निशिकांत दूबे को मिली राहत,  फर्जी डिग्री मामले में एफआइआर रद्द करने का दिया आदेश

हाईकोर्ट से सांसद निशिकांत दूबे को मिली राहत, फर्जी डिग्री मामले में एफआइआर रद्द करने का दिया आदेश

Posted at: Mar 30 , 2022 by Swadeshvaani

 

रांची --गोड्डा सांसद निशिकांत दूबे के  हाईकोर्ट ने राहत दी है। सांसद के खिलाफ दायर एफआइआर को हाईकोर्ट ने रद्द करने का आदेश दिया है। सुनवाई जस्टिस एसके द्विवेदी की कोर्ट में हुई। इसके पहले मंगलवार को मामले की सुनवाई हुई थी। जिस दौरान इलेक्शन कमिशन ऑफ इंडिया की ओर से कोर्ट को जानकारी दी गई कि मामले में निशिकांत दूबे को पहले ही क्लीन चीट मिल चुका है।  जानकारी हो निशिकांत दूबे पूर्व में कोर्ट ने सांसद के खिलाफ पीड़क कार्रवाई पर रोक लगा रखी है।
 
क्या था  मामला निशिकांत दुबे के खिलाफ बंपास टाउन निवासी विष्णु कांत झा ने थाने में शिकायत की थी कि एमबीए के साथ उनकी अन्य डिग्रियां भी फर्जी हो सकती हैं, जिसकी जांच किए जाने की आवश्यकता है। उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की गई। उसी आधार पर पुलिस ने नगर थाने में एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई शुरू की थी। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है.प्राथमिकी में जिक्र है कि फैक्लटी ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज यूनिवर्सिटी ऑफ दिल्ली द्वारा निर्गत पत्र से यह स्पष्ट प्रतीत होता है कि सांसद निशिकांत दुबे द्वारा दर्शाई गई वर्ष 1993 की एमबीए डिग्री फर्जी और अवैध है।  उसी डिग्री के आधार पर वह गलत व भ्रामक जानकारी प्रेषण करते रहते हैं।  सांसद निशिकांत दुबे द्वारा डिग्री का उल्लेख सार्वजनिक रूप से करना और लोगों को बड़ी-बड़ी कंपनियों में नौकरी दिलाने का प्रलोभन देना और फर्जी दस्तावेज का विभिन्न स्थानों पर व्यक्तिगत लाभ के लिए प्रयोग करना दंडनीय अपराध है। 

 


रिलेटेड खबरें

चर्चित खबरे

पहला पन्ना