Logo

ब्रेकिंग न्यूज़

बिहार: दिव्यांग मानसी को लोग बोलते हैं लता मंगेशकर, गरीबी से गर्त में दिख रहा भविष्य

बिहार: दिव्यांग मानसी को लोग बोलते हैं लता मंगेशकर, गरीबी से गर्त में दिख रहा भविष्य

Posted at: Jan 13 , 2022 by Swadeshvaani
स्वदेश वाणी

कटिहार शहर के दुर्गापुर स्थित बेहद गरीब परिवार में जन्मी मानसी के जज्बे को सलाम है. मानसी जन्मजात नेत्रहीन है और इसे लता मंगेशकर बनना इसका लक्ष्य है, मानसी का रुचि बचपन से ही संगीत के क्षेत्र में रहा है.

मानसी के पिता मनोज मोहल्ले में सैलून चलाकर किसी तरह अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं. तीन बच्चों के पिता मनोज खुद गायक बनना चाहते थे लेकिन गरीबी और पारिवारिक उलझन के कारण कारण संगीत की दुनिया मे तो नहीं जा सके लेकिन अपनी नेत्रहीन बेटी मानसी को मनोज ने अपने रियाज से गायिकी के क्षेत्र में इस लायक बना दिया है कि अब अगर सरकार मानसी को मदद करे तो मानसी गायिकी में देश और दुनिया में अपना नाम रौशन कर सकती है. 10वीं पास कर चुकी मानसी को भी सरकार से मदद की आस है. मानसी लता दीदी के जैसा बनना चाहती है और देश दुनिया में नाम रोशन करना चाहते हैं.

मानसी के जादुई आवाज को सुनकर लायंस क्लब इंटरनेशनल 322 E ने ऑनलाइन प्लेटफॉर्म दिया है. जहां अब बिहार ही नहीं देश के कई लोगों ने अपना हाथ बढ़ाकर मानसी को मदद करना चाह रहे हैं, ताकि कोकिला मानसी भी बिहार और देश की दूसरी लता मंगेशकर बनकर उस ऊंचाई को छू सके, बस दरकार है सरकार के द्वारा मानसी को मदद की.

इसे भी पढ़े...  कोरोना प्रोटोकॉल को मेंटेन करने के लिए कटिहार में चलाया मास्क चेकिंग अभियान, जिले के प्रशासनिक महकमा उतरे सड़कों पर

 


रिलेटेड खबरें

चर्चित खबरे

पहला पन्ना