Logo

ब्रेकिंग न्यूज़

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने युवाओं पर ध्यान केंद्रित करने को प्राथमिकता दी

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने युवाओं पर ध्यान केंद्रित करने को प्राथमिकता दी

Posted at: Mar 23 , 2021 by Swadeshvaani
रांची: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दसरा परोपकार सप्ताह के फोरम को संबोधित करते हुए,झारखंड में युवाओं को लेकर राज्य के दृष्टिकोण को स्पष्ट रूप से सामने रखा है। यह फोरम भारत में विकास के मुद्दे पर बातचीत का एक मंच है, जो विकास क्षेत्र से जुड़े नेताओं, संस्थाओं और अन्य हितधारकों को को एक मंच पर साथ ले आता है। श्री सोरेन ने, झारखंड के युवाओं और किशोरों की ज़रूरतों को पूरा करने की दिशा में,  10 से 19 दसरा एडॉलसेंट्स कोलैबोरेटिव के सहयोग व प्रतिबद्धता को स्वीकार किया और कहा कि उनकी सरकार इस समूह की ज़रूरतों को प्राथमिकता देना जारी रखने के उद्देश्य पर काम करेगी। मुख्यमंत्री ने संवेदनशील समूहों जैसे, महिलाओं, किसानों, असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों व कामगारों, दलित और आदिवासी आबादी की जरूरतों को संबोधित करने की तात्कालिकता पर प्रकाश डाला, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि राज्य में भविष्य को लेकर होनेवालीप्रगति व्यापक रूप में हो और इस के तहत कोई भी पीछे न छूट जाए। इस संबोधन में इस वर्ष का विषय- ए बिलियन थ्राइविंग  यानी सौ करोड़ लोगों की खुशहाली, लगातार रेखांकित हुई, जो समावेशी भारत के दृष्टिकोण को दर्शाती है और जहां केवल कुछ लोग नहीं, बल्किसौ करोड़ से अधिक भारतीय, गरिमा और समानता के साथ जी सकें। यह एक ऐसी दूर-दृष्टि है जिसे सार्वजनिक, नागरिक समाज से जुड़े और निजी क्षेत्र में मौजूद समाधानों के केंद्र में न्याय औरसमानता को स्थापित कर, प्राप्त किया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने किशोरों और युवाओं के स्वास्थ्य वसशक्तिकरण में योगदान देने वाले अलग अलग मुद्दों व पहलुओं को तत्काल संबोधित करने की आवश्यकता को स्वीकार किया, जिसमें बाल विवाह और किशोर गर्भावस्था जैसे गंभीर मुद्दे भी शामिल थे। इस के अलावा सरकार यह सुनिश्चित करने का भी प्रयास कर रही है कि युवाओं को कौशल प्रशिक्षण, लाभकारी रोज़गार, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा तक पहुंच, मानसिक स्वास्थ्य सेवाओं व स्वास्थ्य देखभाल संबंधी सेवाओं तक पहुंच हासिल हो।साथ ही, उन्होंने खेल के माध्यम से किशोरियोंमें क्षमता निर्माण का प्रस्ताव रखा। उनका मानना है कि झारखंड में खेल एक बेहद मज़बूत इकाई हैं, और अधिक से अधिक संख्या में युवा लड़कियों को खेलकूद के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।

 


Tags:

रिलेटेड खबरें

चर्चित खबरे

पहला पन्ना