Logo

ब्रेकिंग न्यूज़

दिल्ली-एनसीआर: सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को लगाया फटकार, कहा- हालात बिगड़ने से पहले एक्शन क्यों नहीं लेतीं सरकारें

दिल्ली-एनसीआर: सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को लगाया फटकार, कहा- हालात बिगड़ने से पहले एक्शन क्यों नहीं लेतीं सरकारें

Posted at: Nov 24 , 2021 by Swadeshvaani
स्वदेश वाणी

दिल्ली एनसीआर में वायु प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को एक बार फिर से सुनवाई शुरू की। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने एक बार फिर से सरकार से सवाल पूछा है कि आखिर उसने प्रदूषण को कम करने के क्या काम किए हैं। यही नहीं बेहद सख्त टिप्पणी करते हुए चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना ने कहा, 'समस्या यह है कि लोगों की बहुत अपेक्षाएं हैं कि कोर्ट काम कर रही है और सरकार कोई काम नहीं कर रही है। मिली कुछ जानकारियों के मुताबिक बताया जा रहा है कि कोर्ट की ओर से उठाए गए कदमों के बाद पलूशन में 40 फीसदी की कमी आई है। हमें यह पता नहीं कि यह कितना सही है।

साथ ही साथ अदालत ने कहा कि अब मजदूरों ने हमसे संपर्क किया है कि निर्माण कार्य शुरू होना चाहिए। कल किसान हमसे मांग करेंगे कि उन्हें पराली जलाने की परमिशन दी जाए। कोर्ट ने कहा कि भले ही प्रदूषण का स्तर थोड़ा कम हुआ है, लेकिन हम इस मामले को बंद नहीं करने वाले हैं। हम इस पर सुनवाई जारी ही रहेगा। इसके साथ ही अदालत ने मामले को स्थगित करते हुए सोमवार को अगली सुनवाई करने का फैसला लिया है। बेंच की अगुवाई कर रहे चीफ जस्टिस रमन्ना ने कहा, 'भले ही पलूशन का लेवल कम हुआ है, लेकिन हम इस मामले को बंद नहीं करेंगे।

इसे भी पढ़े...   यूरोप में कोविड-19 से 2022 में मौतों का आकड़ा 22 लाख तक पहुंच सकता है, बोला- WHO

 

 


रिलेटेड खबरें

चर्चित खबरे

पहला पन्ना